राष्ट्रीय खेल की आड़ में लाखों की ठगी

0
7

– हनुमानगढ़ पुलिस ने कई युवकों को दबोचा
राष्ट्रीय स्तर पर खेल प्रतियोगिता में खेलने का सर्टिफिकेट देकर सरकारी नौकरी मिलने का सब्जबाग दिखा कर बेरोजगार युवाओं से लाखों रुपए की ठगी करने के मामले का भण्डाफोड़ हुआ है। मीडिया कर्मियों ने मौके पर पहुंच कर ठगों का खेल बिगाड़ दिया। ऐसे में पुलिस को ठगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करना पड़ा। घटना की जानकारी मिलने पर सिंचाई मंत्री डॉ. रामप्रताप भी मौके पर पहुंच गये।
जानकारी के अनुसार स्पोट्र्स डवल्पमेंट बोर्ड इंडिया के पदाधिकारियों ने देश भर में विज्ञापन देकर नेशनल खेलकूद प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए युवाओं से आवेदन मांगे। देशभर ंके करीब दो हजार युवक-युवतियों ने इस संस्था से सम्पर्क किया, तो संस्था ने प्रति अभ्यर्थी दो हजार रुपए अपने खाते में जमा करवा लिए।
बदले में युवाओं को आश्वस्त किया गया कि वे नेशनल गेम्स में भाग लेने का प्रमाण पत्र देंगे। इससे उन्हें रेलवे व सेना में नौकरी मिल जायेगी। प्रमाण पत्र के आधार पर नौकरी लगने की चाहत रखने वाले करीब दो हजार युवाओं को इस संस्था ने हनुमानगढ़ में बुला लिया। यहां सभी को जाट धर्मशाला में ठहरा दिया। यहां युवाओं को प्रमाण पत्र वितरित किए जा रहे थे। संस्था ने कोई गेम्स नहीं करवाये।
इस फर्जीवाड़े की जानकारी मिलने पर मीडिया कर्मी मौके पर पहुंच गये और पुलिस को सूचना दी। पुलिस को संस्था के युवाओं को हिरासत में लेना पड़ा। पुलिस ने मोहित पुत्र चन्द्रपाल निवासी केहरवाला सिरसा हरियाणा की सूचना पर संस्था के नरेश मलिक, विजय सिंह हनुमानगढ़, आजाद सिंह हिन्दुस्तानी सहित अन्य लोगों के खिलाफ युवाओं के साथ ठगी करने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने संस्था से जुड़े कई युवकों को राउण्डअप करके पूछताछ शुरू कर दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here