हजारों दवाओं पर बैन, क्यों लगा प्रतिबंध!

0
4

नई दिल्ली। एक कहावत है कि मर्ज बढ़ता गया ज्यों ज्यों की दवा। कहावत याद करने की वजह ये है कि सरकार ने एक साथ हजारों दवाईयों के बारे में इसे सही पाया है और उन पर बैन लगा दिया। अब सवाल उठता है कि अगर वो दवाईयां गलत थीं तो इतने दिनों से हम उन्हें क्यों ले रहे थे और सवाल ये भी है कि हमारा हेल्थ सिस्टम आखिर किस हद तक बीमार है और हमें और क्या-क्या सदमे देगा। दवा अगर मरीज को ठीक करने से ज्यादा साइड इफेक्ट पैदा करे तो आगे चलकर नए सिरे से बीमारी होगी, अब ऐसी दवा तो मुसीबत है। केंद्र सरकार ने हजारों दवाईयों पर जो प्रतिबंध लगाया, उसके पीछे भी इलाज और सेहत की सुरक्षा का तर्क है। ये दवाईयां जिन 328 फिक्स डोज कॉम्बिनेशन का इस्तेमाल कर बनाई गई हैं, उनके प्रभाव और दुष्प्रभाव का अध्ययन किए बगैर उन्हें बाजार में उतारा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here